कुकर्म तथा विकर्म

The Experience/Query posted below was posted by a devotee/Sadhaka.

प्रणाम बाबा हनुमान जी बाबा कल जो अध्धाय पढ़ा था उस मई विकर्म और कुकर्म का वर्णन किया था , तो हे भगवन विकर्म और कुकर्म क्या है । प्रभु इसके बारे में ज्ञान देकर मेरा भ्र्म मिटाये सहायता कर प्रभु

Setu Speaks: 

उदाहरण :

स्वयं अथवा अपनों के फायदे के लिए कभी बुरा कर्म कर देना हुआ विकर्म |

किसी को हानि पहुँचाने में आनंद की अनुभूति करना हुआ कुकर्म |